What is Bit and Bytes in Hindi ! बिट और बाइट क्या है???


इस लेख में हम Bit और Bytes को विस्तार से समझेंगे यह क्या है और क्यों है, (Bit and Bytes Introduction in Hindi) Computer Hardware को बहुत ही स्पष्ट रूप से समझने के लिए यह आवश्यक है की आप इसकी मूल ईकाई के बारे में जाने ! कंप्यूटर में इस्तेमाल होने वाली सभी तरह की मेमोरी का-आधार बाइट (Byte) होती है. यदि इसे हम साधारण शब्दों में समझना चाहें तो कह सकते है की एक अक्षर एक बाइट के बराबर होती है. मतलब जब आप कीबोर्ड से अंग्रेज़ी भाषा के ए अक्षर को दबाते है तो वह मेमोरी में एक बाइट जगह इस्तेमाल करता है.
यह भी पढ़ें:

अब हम इसको और विस्तार से जानते है, एस अनहि है की एक अक्षर जैसा हमें दिखाई देता है वैसा ही वह एक बाइट में समाहित रहता है ! किसी भी तरह का डाटा यदि एक बाइट जगह लेता है तो वह आठ भागों में बंटकर एक बाइट के अन्दर जाता है ! यह भी जरुरी नहीं है की वह हमेशां आठ बाइट में ही विभाजित हो ऐसा भी हो सकता है वह सात भागों में बटें ! लेकिन आठ भाग इसकी सीमा है यानि की यह आठ टुकडो से ज्यादा में नहीं बंट सकता हाँ कम में जरुर रह सकता है, इन आठ टुकड़ों को बिट के नाम से जाना जाता है और यह आठ बिट मिलकर एक बिट का निर्माण करते है, चूँकि आठ बिट मिलकर एक बाइट बनाती है और एक बाइट सम्पूर्ण अक्षर को अपने में समाहित करके दर्शाने में सक्षम है ! इसलिए कंप्यूटर की मेमोरी की गणना हमेशा बाइट को ही आधार बनाकर की जाती है आप निचे दी हुई टेबल में मेमोरी के इन रूपों को समझ सकते है.
K : Kilo : 10 घात 3 : 1000
Ki : Kibi : 2 घात 10 : 1024
M : Mega : 10 घात 6 : 1,000,000
Mi : Mebi : 2 घात 20 : 1,048,576
G : Giga : 10 घात 9 : 1,000,000,000
Gi : Gibi : 2 घात 10 : 1,073,741,824
T : Tera : 10 घात 12 : 1,000,000,000,000
Ti : Tebi : 2 घात 40 : 1,099,511,627,776
P : Peta : 10 घात 15 : 1,000,000,000,000,000
Pi : Pebi : 2 घात 50 1,125,899,906,842,624
सामान्य रूप में मेमोरी के मान को बाइनरी मान के अनुसार ही प्रदर्शित किया जाता है ! लेकिन डिस्क की क्षमता के संदर्भ में दूसरा रास्ता अपनाते है.

उपयोगी जानकारी:




This "GK in Hindi" website for sale : shrwanswami@gmail.com