भारत में पहली बार रेल कब चलायी गयी - bharat me train kab chali?


हेल्लो दोस्त क्या आपको जानते हैं, भारत में रेल कब से शुरू की गई थी (bharat me train kab chali) या भारत में पहली बार रेल कब चलायी गयी? यदि नहीं तो आइये इस पोस्ट की मदद से भारतीय रेलवे के बारे में सामान्य जानकारी प्राप्त करते हैं.

भारत में रेल परिवहन?

भारत में परिवहन की रेल परिवहन पर निर्भरता काफी अधिक है ! भारतीय रेल संसार में एक ही प्रबंधक निकाय के अंतर्ग्रत आने वाला सबसे बड़ा रेल विभाग है ! रेलें देश में परिवहन का सबसे महत्वपूर्ण साधन है ! देश का लगभग तीन चौथाई से भी अधिक यात्री परिवहन तथा लगभग 60 प्रतिशत से अधिक माल परिवहन रेलों के माध्यम से संपन्न होता है?
यह भी पढ़ें:



भारत में रेल के शुरुआत कब हुई?

भारत में रेल परिवहन का आरंभ 1853 में हुआ तथा देश की पहली रेल लाइन मुंबई तथा ठाणे के मध्य (34 कि.मी.) आरंभ की गई थी ! आज देश में रेल मार्गों की कुल लम्बाई 63,000 कि.मी. से भी अधिक है तथा भारतीय रेल तंत्र यू.एस.ए, रूस, कनाडा तथा चीन के बाद संसार का पांचवा सबसे बड़ा रेल तंत्र है.
संचालन तथा प्रबंध की सुविधा के लिए भारतीय रेलवे को 16 जोनों में बाँटा गया है ! रेलवे जोनों के नाम तथा इनके मुख्यालय की सूचि निम्नानुसार है.

रेलवे जोन                  मुख्यालय

उत्तर रेलवे                       दिल्ली
मध्य-उत्तर रेलवे                 इलाहाबाद
पूर्वोत्तर रेलवे                     गोरखपुर
उत्तर-पूर्व सीमांत रेलवे          मालेगांव (गुवाहाटी)
पूर्वी रेलवे                        कोलकाता
पूर्व तटवर्ती रेलवे                भुवनेश्वर
पूर्व-मध्य रेलवे                   हाजीपुर
पश्चिम-मध्य रेलवे                जबलपुर
मध्य रेलवे                       मुंबई सेंट्रल
पश्चिम रेलवे                      चर्च गेट, मुंबई
दक्षिण रेलवे                     चेन्नई
दक्षिण मध्य रेलवे                सिकंदराबाद
दक्षिण पूर्व रेलवे                 कोलकाता
दक्षिण-पश्चिम रेलवे              हुबली
दक्षिण-पूर्व-मध्य रेलवे           बिलासपुर
उत्तर रेलवे के अंतर्गत रेल मार्गों की लम्बाई सर्वाधिक है ! इस द्रष्टिकोण से दूसरा स्थान पश्चिम रेलवे का है.

उपयोगी जानकारी: