BTC Full Form in Hindi (बी.टी.सी क्या है)

आप में से कई लोग ऐसे होंगे जो एक टीचर बनना चाहते होंगे। एक टीचर बनने के लिए काफी मेहनत करनी पड़ती है और तब जाकर हमारी गवर्नमेंट नौकरी लगती है और एक अच्छे प्राइवेट स्कूल में नौकरी पाने के लिए भी आपके पास सर्टिफिकेट और नॉलेज होनी चाहिए तभी आपको अच्छी सैलरी दी जाती है। आप इस तरह की नॉलेज पाने के लिए कई तरह के कोर्स कर सकते हैं जिनमें से एक बीटीसी भी है। BTC अन्य टीचिंग कोर्स के मुकाबले काफी सरल है क्योंकि इसमें आपको छोटे बच्चों को पढ़ाने की ट्रेनिंग दी जाती है। आज इस पोस्ट में हम इसी कोर्स के बारे में बात करेंगे और जानेंगे कि BTC क्या है, BTC की फुल फॉर्म क्या है (BTC Full Form in Hindi) आदि। तो चलिए शुरू करते हैं.


Full Form of BTC in Hindi (बीटीसी की फुल फॉर्म क्या है)

अधिकतर लोग BTC की फुल फॉर्म 'Basic Teacher Course' समझते हैं लेकिन यह पूरी तरह से गलत है क्योंकि बीटीसी की फुल फॉर्म 'Basic Teaching Course' होती है। अगर इस का हिंदी मतलब देखा जाए तो वह 'साधारण शिक्षण कोर्स' होता है। यानी किसके नाम से ही पता चलता है कि यह एक प्रकार का शिक्षण कोर्स है जिसमें आपको लोगों को शिक्षा देने की ट्रेनिंग दी जाती है। आइए आप जानते हैं कि आखिर इसमें होता क्या है?
इन्हें भी पढ़ें:

What is BTC in Hindi (बीटीसी कोर्स क्या है)

बीटीसी सरकार की तरफ से चलाया गया एक कोर्स है जिसको करने के बाद हम एक टीचर बन सकते हैं। इस कोर्स को करने के बाद आप एक प्राइमरी स्कूल टीचर बन सकते हैं। प्राइमरी स्कूल में आपको छोटे-छोटे बच्चों को पढ़ाना होता है और इस कोर्स में आपको उसी की ट्रेनिंग दी जाती है कि छोटे बच्चों को कैसे पढ़ाएं जिससे कि वह पढ़ने में इंटरेस्ट है और इसे बोझ ना समझे। इस कोर्स में आपको प्राइमरी स्कूल के बच्चों को पढ़ाने की ट्रेनिंग दी जाती है।

करीब 2 वर्ष तक चलने वाले यह कोर्स उन लोगों के लिए सबसे बेहतरीन रहता है जो की टीचर की जॉब करना चाहते हैं लेकिन इसके लिए अधिक मेहनत नहीं करना चाहते। यानी कि अगर आप एक हाई लेवल की क्लास को पढ़ाने की मेहनत नहीं कर सकते तो आप इस कोर्स को करके प्राइमरी स्कूल में टीचर बन सकते हो।
इस कोर्स को करने के बाद आपको जो डिग्री में लिखी उसकी मदद से आप गवर्नमेंट टीचर की जॉब के लिए तो अप्लाई कर ही सकते हो और उसके अलावा किसी प्राइवेट स्कूल में तो आसानी से नौकरी ले सकते हो। जो अच्छे लेवल के प्राइवेट स्कूल होते हैं वह बच्चों को पढ़ाने के लिए कोई डिग्री मानते हैं और अगर आपके पास BTC की डिग्री होती है तो आप आसानी से अच्छी सैलरी प्राप्त कर सकते हो।
इस कोर्स को करने के बाद आपको जो डिग्री मिलती है उसके जरिए आप आसानी से प्राइवेट स्कूल में जॉब ले सकते हो। इस कोर्स को लड़कों से ज्यादा लड़कियां करने लगी है क्योंकि प्राइमरी स्कूल के बच्चों को पढ़ाना कोई बड़ी बात नहीं होती लेकिन को संभालना थोड़ा सा डिफिकल्ट होता है लेकिन इसके लिए अगर अच्छी सैलरी मिले तो शायद वह डिफिकल्ट नहीं लगेगा।

BTC Course करने के लिए कुछ Requirements

अगर आप अपना मन इस कोर्स को करने के लिए बना चुके हैं तो इसके लिए कुछ साधारण सी रिक्वायरमेंट है, जो मैं आपको बता रहा हु।
1) उम्र : इस कोर्स को करने के लिए आप की उम्र कम से कम 21 वर्ष की होनी चाहिए। 21 वर्ष से कम के छात्र इस कोर्स को नहीं कर सकते।
2) इस कोर्स को करने के लिए आप कम से कम 12वीं पास होने चाहिए।
3) यह कोर्स 2 साल का होता है। अगर आपको उसको सही तरीके से करोगे तो जॉब लगने में आसानी होगी इसलिए प्रजेंट रहना सही रहेगा।
So Guys, आज के इस पोस्ट में हमने BTC के कोर्स के बारे में जाना और BTC Full Form in Hindi के बारे में भी पता किया। अगर यह पोस्ट पसंद आया तो इसे सोशल मीडिया पर शेयर करना ना भूले।
इससे संबधित अन्य जानकारी भी पढ़ें:



Comments

This "GK in Hindi" website for sale : shrwanswami@gmail.com